अनुराग मिश्र

मिले जो दाम वाज़िब बेच दूँ अपनी खुशी।
कि साये गमों के रास आने लगे हैं मुझे।।
[अनुराग मिश्र]

मैं अनुराग मिश्र ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के पीजी हिस्ट्री डिपार्टमेंट में अध्ययनरत हूँ। बिहार के मधुबनी जिला का निवासी हूँ।