उभरते साहित्यकारों के लिये दो अवसर

यदि आप हिंदी के एक उभरते हुए रचनाकार हैं और अपने लिये एक अवसर की तलाश में हैं तो इस समय आपके सामने दो अवसर खुले हुए हैं। अधिक जानकारी के लिये कृपया आगे पढें और किसी उत्सुकता या शंका की स्थिति में आयोजकों से सीधा सम्पर्क करें

जयपुर प्रीत की बांहों में

देश के सबसे बड़े राज्य राजस्थान की राजधानी जयपुर में दर्जनों विश्वविद्यालय एवं सैंकड़ों शिक्षण संस्थान हैं। यहाँ देश-विदेश से हज़ारों युवक-युवतियाँ पढ़ने व नौकरी करने के लिए आते हैं। निश्चय ही जिस शहर में उनकी 15 से 30 साल की उम्र बीतेगी वह उनकी ज़िन्दगी के अहम किरदार भी रचेगा। हमें तलाश है युवाओं की ऐसी वास्तविक प्रेम कहानियों की जो जयपुर शहर में परवान चढ़ीं।

वे सफल प्रेम हों या असफल ... उन्हें एक कहानी की शक्ल में हमें भेजिए। स्वीकृत कहानियाँ "जयपुर प्रीत की बाहों में" पुस्तक में प्रकाशित होंगी। प्रकाशित कहानियों पर एक-एक हज़ार रूपये मानदेय के साथ पुस्तक की पांच मानार्थ प्रतियाँ प्रदान की जाएँगी।

कहानियाँ सत्य घटनाओं पर आधारित हों, यद्यपि कल्पना का सहारा लिया जा सकता है। यदि आप चाहें तो किसी स्थापित कहानीकार से भी अपनी ज़िन्दगी का सच लिखवा कर भेज सकते हैं किन्तु ऐसे में रचनाकार की जगह उस कहानीकार का नाम अवश्य दें। पात्रों व स्थानों के नाम बदले जा सकते हैं।

कहानियाँ [2000 से 2500 शब्दों में] हस्तलिखित/टंकित 30 जून 2017 तक इस पते पर भेजी जा सकती हैं:

प्रबोध कुमार गोविल, बी-301 मंगलम जागृति रेजीडेंसी, 447 कृपलानी मार्ग,आदर्श नगर,जयपुर-302004 [राजस्थान]
मोबाइल: +91 941 402 8938
ईमेल: prabodhgovil@gmail.com

सृजन संवाद की कहानी-कविता प्रतियोगिता

सृजन संवाद वेबसाइट/ब्लॉग अपने अन्य सहयोगी ब्लॉगर्स तथा अंतरराष्ट्रीय पत्रिका 'सेतु' (पिट्सबर्ग, अमेरिका) 'अभिमत' पत्रिका (भोपाल) तथा 'पर्तों की पड़ताल' पत्रिका (उत्तर प्रदेश) के सहयोग से एक 'कहानी-कविता प्रतियोगिता' का आयोजन करने का निश्चय करता है, जिसमें लघुकथा, कहानी, छंद बद्ध और छंद मुक्त कविता, ये चार श्रेणियाँ होंगी।

इस प्रतियोगिता का उद्देश्य फेसबुक के रचनाकारों को प्रोत्साहित करना तथा उनकी रचना को एक व्यापक पाठक वर्ग के समक्ष लाना है।

एक रचनाकार केवल एक विधा में, एक ही मौलिक व अप्रकाशित रचना, देवनागरी लिपि में भेजें।

रचनाकार को इस आशय का प्रमाण पत्र देना होगा कि रचना उनकी लिखी तथा प्रतियोगिता से पूर्व अप्रकाशित है। यह प्रमाण पत्र लेखक द्वारा हस्तलिखित और स्वप्रमाणित होगा। जिसका स्कैन या फोटो रचना के साथ भेजना अनिवार्य है। रचनायें राजनीतिक पुट लिये हुये तथा सामाजिक ताने-बाने के प्रतिकूल स्वीकार्य नहीं होंगी । कृपया धार्मिक, सामाजिक, और विद्वेषपूर्ण सामग्री से परहेज करें।

प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में ग्यारह सदस्य हैं तथा इस मंडल के अध्यक्ष श्री उमेश तिवारी सहायक आयुक्त वाणिज्यिक कर (मध्य प्रदेश शासन) हैं। जिनका निर्णय अंतिम व सर्वमान्य होगा।
रचना भेजने कि लिये कृपया निम्न फ़ॉर्म का प्रयोग करें: सृजन संवाद

रचना भेजने की प्रारंभिक तिथि 27/01/2017 तथा अंतिम तिथि 15/02/2017 तक है।
सूचना: प्रतियोगिता में भाग लेने की अवधि दिनांक 05/02/2017 से बढ़ाकर 28/02/2017 तक की जाती है। कुछ रचनाकारों की लिंक विषयक समस्या है अतः srijansamwadshala@gmail.com पर सीधे भी अपनी रचनाएँ ईमेल की जा सकती हैं। जिन्होंने पहले रचना भेज दी हैं उन्हें दुबारा भेजने की आवश्यकता नहीं है। किसी भी तकनीकी सहायता के लिए +91 700 784 7004 मोबाइल नंबर पर भी संपर्क किया जा सकता है।
प्रतियोगिता के खण्ड तथा पुरस्कारों का विवरण:

1- कहानी (अधिकतम दो हजार शब्द)
प्रथम पुरस्कार- 5,001₹
द्वितीय पुरस्कार - 2,001 ₹
एवम अन्य तीन शीर्ष रचनाओं को स्मृति पत्र तथा ब्लॉग पर प्रकाशन।

2- लघुकथा (अधिकतम पाँच सौ शब्द)
प्रथम पुरस्कार - 2,501 ₹
द्वितीय पुरस्कार - 1,001 ₹
एवम अन्य तीन रचनाओं का ब्लॉग पर प्रकाशन।

3- छंदबद्ध कविता/गजल/गीत
प्रथम पुरस्कार - 2,501 ₹
द्वितीय पुरस्कार - 1,001 ₹
एवम अन्य तीन शीर्ष रचनाओं का ब्लॉग पर प्रकाशन।

4- छंदमुक्त कविता/मुक्तक
प्रथम पुरस्कार - 2,501 ₹
द्वितीय पुरस्कार - 1,001 ₹
एवम अन्य तीन शीर्ष रचनाओं का ब्लॉग पर प्रकाशन।

प्रथम पुरस्कार से सम्मानित रचना को पुरस्कृत करने के साथ साथ उसे विभिन्न ब्लॉगों तथा उपरोक्त पत्रिकाओं में प्रकाशित भी किया जाएगा।
                                                                                                       सेतु, जनवरी 2017