आचार्य शीलक राम

जन्म स्थान: ग्राम+डाकखाना - चुलियाणा (रोहज), जिला-रोहतक (हरियाणा) - 124527
शिक्षा: स्नातकोत्तर (दर्शनशास्त्र, हिंदी, संस्कृत) एम.फिल.(दर्शनशास्त्र), पीएच.डी.
सम्प्रति: क्षेत्र विश्वविद्यालय के दर्शनशास्त्र विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत।

प्रकाशित पुस्तकें:

  • जीवन-दर्शन एवं संस्कृति
  • ब्रह्मज्ञानी कौन? पं. लखमीचंद, दादा बस्ती राम या बाजेभगत
  • पं. लखमीचंद के सांगो का दार्शनिक विवेचन (दर्शन)
  • आख्यां देखी(हरियाणवी नाटक)
  • भगवान का गीत(हरियाणवी गीता) (हरियाणा साहित्य अकादमी से पुरस्कृत)
  • अमृतकलश - धनपत सिंह निंदाणा (ग्रंथावली)
  • लूट सके तो लूट (सार्वभौम दर्शन)
  • हरियाणवी लोकसाहित्य में दर्शन की अवधारणा:पं. लखमीचंद व बाजे भगत के संदर्भ में
  • राष्ट्रनायक : हमारा हरियाणा, विकसित हरियाणा (महाकाव्य)
  • ढाई आखर प्रेम का (हरियाणा साहित्य अकादमी से पुरस्कृत)
  • मुक्तिदाता चौधरी छोटूराम
  • प्रेम की झील में विश्वासघात के कांटे(प्रेम का दर्शन)
  • प्रेम-सरोवर (प्रेम का दर्शन)
  • प्रेम-पूजा(प्रेम का दर्शन)
  • प्रेम से प्रेम तक (प्रेम का दर्शन)
  • प्रेम की पाती (प्रेम का दर्शन)
  • दर्शन-ज्योति (दार्शनिक शोध-लेख संग्रह)
  • माता-पिता का आतंक (काव्य संग्रह)
  • समकालीन दार्शनिक जे. कृष्णमूर्ति के दर्शन में ध्यान की अवधारणा का समीक्षात्मक अध्ययन
  • ओशो महाकाव्य
  • हरियाणवी लोककाव्य में दर्शन की अवधारणा (दार्शनिक शोध-लेख संग्रह)
  • सनातन भारतीय योग-साधना एवं इसकी विभिन्न ध्यान विधियां
  • भारतीय दर्शन की सनातन परंपरा
  • भारतीय-दर्शन के विविध आयाम
  • भारतीय-दर्शन एवं हरियाणवी लोक जीवन
  • व्यावहारिक दर्शनशास्त्र
  • आज का दर्शनशास्त्र
  • जागो भारत (Philosophy of Nation)
  • वैदिक प्रार्थना
  • भगवान बुद्ध का आर्य वैदिक सनातन हिन्दू दर्शन
  • विश्वगुरु भारत
  • दर्शनशास्त्र
  • आर्य हिन्दुत्व
  • अथातो भारतीय दर्शन शास्त्र जिज्ञासा
  • विभिन्न समाचार पत्रों व पत्रिकाओं में तीन सौ से अधिक लेख प्रकाशित

विशेष: गत डेढ. दशक से भारतीय संस्कृति, धर्म, दर्शन, योग व हिन्दी भाषा के प्रचार-प्रसार हेतु प्रयासरत व लोकसाहित्य में विशिष्ट आलोचक के रुप में पहचान।
ईमेल: shilakram9@gmail.com