इन आरोपों के मद्देनजर आपकी सच्चाई, चरित्र और निष्ठा पर सवाल उठते हैं

मेहेर वान

- मेहेर वान


रॉबर्ट ओपेनहाइमर पर लगे आरोपों के संबंध में यह पत्र भेजा गया था। प्रारम्भ में यह पत्र गुप्त था मगर बाद में इसे सार्वजनिक कर दिया गया।

**********************************************

डॉ जे. आर. ओपेनहाइमर
इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांस्ड स्टडी
प्रिंस्टन, न्यू जर्सी

दिसंबर 23, 1953

प्रिय डॉ. ओपेनहाइमर,

परमाणु ऊर्जा अधिनियम 1946 की धारा 10 परमाणु ऊर्जा कमीशन पर यह आश्वस्त करने की ज़िम्मेदारी सौंपती है कि व्यक्ति विशिष्ट केवल तब तक कमीशन की नौकरी पर रहता है जब तक कि उसके नौकरी पर होने से सामान्य रक्षा और सुरक्षा को खतरा नहीं होता है। इसके साथ-साथ, 27 अप्रैल, 1953 का प्रशासनिक आदेश 10,450 ऐसे हर एक व्यक्ति को नौकरी से निकाले जाने की मांग करता है, जहां कोई ऐसी सूचना हो जो कि यह निर्देशित करती हो कि उसका नौकरी में रहना देश की सुरक्षा के हितों के साथ साफ तौर पर मेल न खाती हो।
आपके चरित्र, संपर्कों और निष्ठा का अतिरिक्त निरीक्षण करने के परिणामस्वरूप, और आपकी व्यक्तिगत सुरक्षा फाइल को परमाणु ऊर्जा अधिनियम की जरूरतों को ध्यान में रखते हुये और प्रशासनिक आदेश 10450 की आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुये कुछ महत्वपूर्ण सवाल उठ खड़े हुये हैं कि पारमाण्विक ऊर्जा कमीशन में आपकी यह नियुक्ति क्या सामान्य रक्षा और सुरक्षा को खतरे में डालेगी और क्या आपकी यह नियुक्ति राष्ट्रीय सुरक्षा के हितों से मेल खाती है? यह पत्र के द्वारा आपको यह संदेश है कि आपको इन सवालों का हल निकालने में मदद करनी होगी।

वह सूचनाएं जो पारमाण्विक ऊर्जा कमीशन में आपकी नियुक्ति की अर्हता के संबंध में है वह इस प्रकार है-
यह जानकारी दी गई है कि सन 1940 में आप ‘चीनी लोगों के मित्र’ के प्रयोजकों के रूप में शामिल थे, इस संस्था को सन 1944 में गैर-अमेरिकी क्रियाकलापों की देखरेख करने वाली संसदीय कमेटी ने एक कम्युनिस्ट संस्था के रूप में चिन्हित किया था। इसके बाद और यह जानकारी मिली कि सान 1940 में आपका नाम ‘जनतान्त्रिक और बौद्धिक स्वतन्त्रता के लिए अमेरिकी समिति’ के लेटरहेड पर राष्ट्रीय प्रबन्धक समिति के सदस्य के रूप में शामिल किया गया। ‘जनतान्त्रिक और बौद्धिक स्वतन्त्रता के लिए अमेरिकी समिति’ को ‘गैर-अमेरिकी क्रियाकलापों की देखरेख करने वाली संसदीय कमेटी’ ने सन 1942 में कम्युनिस्ट धड़े के रूप में चिन्हित किया जिसने कम्युनिस्ट शिक्षकों को बचाया, और सन 1943 में इसे स्वायत्तीकरण पर संसदीय समिति की उप-समिति ने विनाशकारी और अमरीकी मूल्यों के खिलाफ बताया था। इसके आगे यह भी जानकारी दी गई कि सन 1938 में आप उपभोक्ता संघ की पश्चिमी परिषद के सदस्य थे। उपभोक्ता संघ को सन 1944 में गैर-अमेरिकी क्रियाकलापों कि संसदीय कमेटी के द्वारा कम्युनिस्ट धड़ा करार दिया गया था जिसका नेतृत्व आर्थर कैले नामक कम्युनिस्ट करता था। इसके आगे यह भी जानकारी मिली कि आपने सन 1943 में यह घोषणा की कि आप एक कम्युनिस्ट नहीं थे लेकिन आप पश्चिमी तट वाले प्रत्येक कम्युनिस्ट धड़े से संबंध रखते थे और आपने उन तमाम याचिकाओं पर हस्ताक्षर किए जिनमें कम्युनिस्टों की रुचि थी।

यह जानकारी मिली कि सन 1943 और उसके पहले आप डॉ जीन टेटलोक के नजदीकी संबंधियों में से थे, जोकि सेन फ्रांसिसको में कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य है और यह कि डॉ टेटलोक आंशिक रूप से कम्युनिस्ट समूहों से आपके जुड़ाव का कारण हैं।

यह भी जानकारी मिली कि आपकी पत्नी, कैथरीन प्युनिंग ओपेनहाइमर, पहले जोसेफ डेले की पत्नी थीं, जो कि कम्युनिस्ट पार्टी का सदस्य था, जो कि स्पेनिश रिपब्लिकन आर्मी के लिए स्पेन में लड़ते हुये सन 1937 में मर गया था। आगे यह भी जानकारी मिली कि जोसेफ डेले से संबंधों के समय, आपकी पत्नी भी कम्युनिस्ट पार्टी कि सदस्य बन गईं थी। एटॉर्नी जनरल के द्वारा कम्युनिस्ट पार्टी को विध्वंसक संस्था के रूप में बताया गया था जो कि अमेरिका में प्रशासनिक आदेश 9835 और 10450 के तहत असंवैधानिक तरीकों से अमेरिका में सरकार का तख्तापलट करने की इच्छा रखने वाली संस्था है।

यह जानकारी दी गई कि आपके भाई फ्रेंक फ्रीडमेन ओपेनहाइमर, सन 1936 में कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य बन गए थे और उन्होने लॉस एंजेलेस काउंटी में कम्युनिस्ट पार्टी के संयोजक और व्यावसायिक विभाग के शैक्षिक निदेशक के रूप में सेवा की। यह भी जानकारी दी गई कि आपके भाई की पत्नी, जैकी ओपेनहाइमर, सन 1938 में कम्युनिस्ट पार्टी की सदस्य थीं; और यह भी कि अगस्त 1944 में जैकी ओपेनहाइमर ने कैलिफोर्निया लेबर स्कूल कि उत्तरी खाड़ी शाखा की स्थापना करने में सहायता की थी। इसके आगे यह जानकारी दी गई कि सन 1945 में फ्रैंक और जैकी ओपेनहाइमर रूसी वाणिज्य दूतावास में अनौपचारिक स्वागत समारोह में आमंत्रित किए गए थे, यह भी कि यह आमंत्रण सेन फ्रांसिस्को के अमेरिकी-रूसी इंस्टीट्यूट द्वारा भी दिया गया था और इसका उद्देश्य अमेरिका के प्रसिद्ध वैज्ञानिकों को रूस के उन वैज्ञानिकों से मिलवाना था, जो अंतर्राष्ट्रीय संगठन पर संयुक्त राष्ट्र की कोन्फ्रेंस में उस समय हिस्सेदारी करने आए सेन फ्रांसिस्को आए थे, और यह कि फ्रैंक ओपेनहाइमर ने यह आमंत्रण स्वीकार किया था। इसके आगे यह जानकारी दी गई कि फ्रेंक ओपेनहाइमर आधुनिक वैज्ञानिक विकास के सामाजिक परिणामों विषय पर छह हफ्तों का एक कोर्स कैलिफोर्निया लेबर स्कूल में पढ़ाने के लिए भी राज़ी हो गए थे जो कि 9 मई, 1946 को शुरू हुआ था, अमेरिकी-रूसी इंस्टीट्यूट ऑफ सेन फ्रांसिस्को और कैलिफोर्निया लेबर स्कूल को एटोर्नी जनरल ने प्रशासनिक आदेशों 9835 और 10450 के तहत कम्युनिस्ट संस्थाएँ घोषित किया था।

यह भी जानकारी दी गई कि आप कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्यों और पदाधिकारियों से संबन्धित रहे, जिनमें आइजक फोकोफ, स्टीव नेलसन, रूबी लेंबर्ट, केनेथ मे, जेक मेनले और थॉमस एडिस जैसे लोग सम्मिलित हैं।
यह भी जानकारी दी गई है कि आप सन 1941 और 1942 में “पीपुल्स वर्ल्ड” दैनिक के ग्राहक रहे हैं जो कि पश्चिमी तट में कम्युनिस्टों का अखबार है।

यह भी जानकारी दी गई कि आपने एफबीआई के एक एजेंट को यह बताया कि आपने भूतकाल में कम्युनिस्ट धड़े की संस्थाओं को चंदा दिया, यद्यपि उस समय आप कम्युनिस्ट पार्टी नियंत्रण अथवा घुसपैठ से अनभिज्ञ थे। आपने एफबीआई के एजेंट को आगे यह भी बताया कि इनमें से कुछ चंदे आइजक फोकोफ के जरिये दिये गए जिसे आप एक प्रमुख कम्युनिस्ट कार्यकर्त्ता के रूप में जानते थे, क्योंकि आपको कहा गया था कि यही इन समूहों की मदद करने का सबसे अच्छा प्रभावी और सीधा रास्ता है।

यह भी जानकारी दी गई कि आपने 20 सितंबर, 1941 को केनेथ और रूथ के घर पर हुई स्वागत पार्टी में भी हिस्सा लिया जिसके लिए एक प्रवेश शुल्क रखा गया था, यह प्रवेश शुल्क “पीपुल्स-वर्ल्ड” के फायदे के लिए था, और यह कि इस पार्टी में आप जोसफ डब्ल्यू वीनबर्ग और क्लेरेन्स हिसकी के साथ थे, जो कि तथाकथित रूप से कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य हैं, और सोवियत यूनियन के लिए जासूसी करने में शामिल हैं। यह भी जानकारी दी गई कि आपने 1952 में न्याय विभाग, अमेरिका के अधिकारियों को सूचित किया कि आपको याद नहीं कि आप इस तरह की किसी पार्टी में शामिल हुये, लेकिन यह आपके चरित्र से मेल खाती है इसलिए आप इस बात से इनकार भी नहीं कर सकते कि आपने इस तरह की पार्टी में शामिल हुये।

यह जानकारी दी गई कि आपने अलमाडा काउंटी, कैलिफ़ोर्निया की कम्युनिस्ट पार्टी के पेशेवर विभाग वाली बंद कमरे में हुई बैठक में हिस्सेदारी की, जो कि जुलाई और अगस्त 1941 के अंतिम भाग में आपके ही घर 10 केनिलवर्थ कोर्ट, बर्कले, कैलिफ़ोर्निया में सम्पन्न हुई थी। इस बैठक का उद्देश्य कम्युनिस्ट पार्टी की योजनाओं को बदलने के स्पष्टीकरण की सुनवाई करना था। यह भी सूचना दी गई है कि आपने इस तरह की किसी बैठक में भागीदारी को नकार दिया था और यह भी नकार दिया था कि ऐसी कोई बैठक आपके घर में हुई।
यह जानकारी दी गई कि आपने सन 1950 में एक एफबीआई एजेंट को कहा कि आपने 1940 या 1941 में एक बैठक में भाग लिया था जो शायद आपके हाकोन शवेलियर वाले घर पर आयोजित हुई थी। इस बैठक को विलियम स्नेडरमेन ने उद्बोधित किया था, जिसे आप जानते थे कि वह कम्युनिस्ट पार्टी का प्रमुख नेता है। कैलिफोर्निया राज्य की ग़ैर-अमेरिकी क्रियाकलापों की कमेटी ने हाकोन शवेलियर को 1940वें दशक में कम्युनिस्ट पार्टी सेन फ्रांसिस्को के सदस्य के रूप में चिन्हित किया गया था।

यह सूचना दी गई कि आपने इस बात से हमेशा इनकार किया है कि आप कभी कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य रहे हैं। यह भी सूचना दी गई कि आपने एफबीआई के एक एजेंट को सन 1946 में बताया कि सन 1939 में हुये जर्मन समझौते पर हस्ताक्षर होते समय सोवियत यूनियन की राजनैतिक योजनाओं के बारे में आपके विचारों में परिवर्तन आया था। यह भी जानकारी दी गई कि सन 1950 में आपने एफबीआई के एक प्रतिनिधि को बताया कि आपने कभी भी कम्युनिस्ट पार्टी की बंद कमरे में हुई बैठक मे हिस्सेदारी नहीं की, और यह कि उस समय जब सन 1941 में जब रूसी-फ़िनलेंड युद्ध शुरू हुआ था उसके बाद 1941 में जर्मनी और रूस मे यह युद्ध शुरू हो गया, तब आपने यह महसूस किया कम्युनिस्ट पार्टी की घुसपैठी योजनाओं को फासीवादी समूहों के विरोधियों में साकार होते हुये देख, इस तरह आप इस पूरेघटनाक्रम को देखकर निराश हो गए और इस मुद्दों में आपकी सूची चली गई। इसके आगे यह भी सूचना ई गई कि:-

(a) सन 1942 के पहले, आपने 150 डॉलर प्रति माह के हिसाब से कम्युनिस्ट पार्टी, सेन फ्रांसिस्को को चंदा दिया और यह कि इस तरह का अंतिम भुगतान अप्रैल 1942 यानि आपके परमाणु बम प्रोजेक्ट मे शामिल होने के ठीक पहले तक ही किया गया।

(b) सन 1942 से 1945 के बीच, कम्युनिस्ट पार्टी के अनेक अधिकारी जिनमें डॉ हाना पीटर्स, जो कि कम्युनिस्ट पार्टी, अल्माण्डा, कैलिफोर्निया में पेशेवर विभाग के संयोजक थे; स्टीव नेल्सन, डेविड अदलेसन, पाऊल पिंकस्की, जैक मैनले और कटरीना सांडो आदि अधिकारियों ने तथाकथित रूप से कहा था कि आप उस समय कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य थे; चूंकि उस समय आप पार्टी की गतिविधियों में सक्रिय नहीं हो सकते थे; कि आपका नाम पार्टी की डाक-सूची से हटा दिया जाये और कहीं और किसी भी प्रकार से आपका नाम इस्तेमाल न किया जाये; कि आपने पार्टी के सदस्यों से उस समय परमाणु बम के बारे में बातचीत की थी; और यह भी कि सन 1945 के कई वर्ष पहले आपने स्टीव नेल्सन से कहा था कि सेना परमाणु बम बनाने की दिशा में काम कर रही है|
(c) आपने सन 1943 में कहा था, कि आप ऐसे किसी भी इंसान को इस प्रोजेक्ट के लिए अपनी टीम में शामिल नहीं करना चाहते थे, जो पहले कम्युनिस्ट पार्टी का सदस्य रहा हो, क्योंकि “उसके समक्ष हमेशा विभाजित वफादारी का सवाल होगा” और कम्युनिस्ट पार्टी में अनुशासन बहुत कठोर था जो कि उस प्रोजेक्ट के प्रति वफादारी से मेल नहीं खाता था। आपने बाद में कहा था कि उस समय आप कम्युनिस्ट पार्टी की तत्कालीन सदस्यता के बारे में बात कर रहे थे न कि आप उन लोगों के बारे में बात कर रहे थे जो कि पहले पार्टी के सदस्य रहे थे। आपने आगे बताया कि आप उस समय लॉस अलामोस में कई ऐसे लोगों को जानते थे जो कि कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य थे। हालांकि आपने ऐसे कम्युनिस्ट पार्टी के पूर्व सदस्यों की पहचान उपयुक्त पदाधिकारियों को नहीं बताई। यह भी जानकारी दी गई है कि सान 1942-1945 के समय में आप उन लोगों को नौकरी देने के लिए जिम्मेदार रहे हैं जो कि पहले से ही कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य थे, अथवा कम्युनिस्ट पार्टी के क्रियाकलापों के नजदीकी से जुड़े हुये थे, इनमें जियोवानी रोसी लोमनीट्ज़, जोसेफ वीनबर्ग, डेविड बोम, मेक्स बर्नण्ड फ़्रीडमेन और डेविड हाकिन्स शामिल है। जियोवानी रोसी लोमनीट्ज़ के मामले में आपने उनसे आग्रह किया था कि वह इस प्रोजेक्ट पर काम करे, यद्यपि आपने उसे कहा था कि आप यह जानते हैं कि वह कम्युनिस्ट पार्टी के रंग में डूबा हुआ था जब वह कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी आया था, और यह भी कि आपने उसे विशेष रूप से कहा था कि उसे इस प्रोजेक्ट में काम करने के लिए पार्टी की राजनैतिक क्रियाकलापों को किनारे रखना पड़ेगा यदि वह इस प्रोजेक्ट को जॉइन करता है। अगस्त 1943 को, आपने उसको दी गई मोहलत को खत्म करने का विरोध किया था और यह निवेदन किया था कि उसे अपनी सैन्य सेवा में एंट्री के बाद प्रोजेक्ट में वापस शामिल हो जाना चाहिए।

यह सूचना दी गई कि आपने एफ.बी.आई. के प्रतिनिधियों को 05 सितंबर, 1946 को बताया कि आपने पूर्वी खाड़ी और सेन फ्रांसिस्को में हुई बैठकों में हिस्सा लिया था जिनमें हिस्सा लेने वाले निश्चित रूप से कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य थे। जब आपसे पूर्वी खाड़ी की बैठक के  उद्देश्य के बारे में और उसमे शामिल होने वालों की पहचान के बारे में पूछा गया, तो आपने इस प्रश्न का उत्तर इस कारण से देने से इनकार कर दिया, कि यह उस समय विमर्श किए जा रहे विषय से जुड़ा हुआ नहीं था।

यह जानकारी दी गई, कि आपने 01 जनवरी 1946 को फ्रेंक ओपेनहाइमर के घर पर हुई एक बैठक में डेविड एडलेसन और पॉल पिंकसी के साथ हिस्सा लिया, जो कि दोनों कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य हैं। यह भी जानकारी दी गई कि आपने कुछ मामलों का विश्लेषण भी किया जिसे पिंकसी सेक्रेमेंटों, सीए के संसदीय कन्वेन्शन में रखने की उम्मीद कर रहा था।

सन 1946 में यह बताया गया कि कला, विज्ञान और पेशेवरों की स्वतंत्र नागरिक कमेटी के लेटरहैड पर आपका नाम उप-निदेशक के रूप में छपा था, जिसे गैर-अमेरिकी क्रियाकलापों वाली संसदीय कमेटी के द्वारा कम्युनिस्ट फ्रंट के रूप में चिन्हित किया गया था।

सन 1946 में ही यह बताया गया कि आपके उप निदेशक के रूप में सूचीबद्ध होने के महीने भर पहले ही पीटर इवानोव, सोवियत वाणिज्य-दूत के सचिव-सेन फ्रांसिस्को, ने जॉर्ज चार्ल्स एलटेंटन को विकिरण प्रयोगशाला मे चल रहे शोधकारी के बारे में जानकारी पाने के उद्देश्य से संपर्क किया था; कि जॉर्ज एलटेंटन ने इसके बाद हाकोन शेवलियार से इस मामले में आपसे संपर्क करने का निवेदन किया था; कि हाकोन शेवलियार ने इस मामले के संबंध में तत्पश्चात आपसे संपर्क किया, या तो सीधे यह फिर आपके भाई फ्रेंक ओपेनहाइमर के जरिये; और यह कि अंततः जॉर्ज एलटेंटन ने हाकोन शेवलियार को यह सलाह दी कि इस जानकारी को प्राप्त करने का कोई अवसर नहीं है। यह भी बताया गया कि आपने इस मामले के बारे में आगे कई महीनों तक कभी उचित अधिकारियों को सूचित नहीं किया; कि जब 26 अगस्त 1943 को आपने उचित अधिकारियों के समक्ष यह मामला रखा तो आपने खुद को उस इंसान की तरह चिन्हित नहीं किया जिस आदमी से संपर्क साधने की कोशिश की गई थी, और हाकोन शवेलियर को भी वह आदमी स्वीकार करने से इनकार कर दिया जिसने जॉर्ज चार्ल्स एलटेंटन की ओर से संपर्क करने की कोशिश की थी; और यह कि इसमें कई महीनों लग गए जब आपने हाकोन शावेलियर को चिन्हित किया। यह भी आगे बताया गया कि आपके लॉस अलमोस प्रोजेक्ट से अलग होकर बर्क्ले वापस आने पर शवेलियर आपसे मिलने कई मौकों पर कई बार आया; और यह कि आपकी पत्नी 1946 और 1947 में हाकोन और बार्बरा शवेलियर के संपर्क में थीं।

यह सूचना दी गई कि सान 1945 ने आपने इस नज़रिये को प्रदर्शित किया कि ,”इस बात की तार्किक रूप से संभावना है कि यह (हाइड्रोजन बम) बनाया जा सकता है”, लेकिन कि सैद्धान्तिक स्तर पर हाइड्रोजन बम के बनाए जा सकने की संभाव्यता प्रतीत नहीं हुई, जैसे कि एक समय में विखंडन बम खास सैद्धान्तिक नियमों के आधार पर संभाव्य नहीं था , जब लॉस अलमोस प्रयोगशाला शुरू ही हुई थी; और यह कि 1949 के पतझड़ में प्रमुख सलाहकार समिति ने यह विचार व्यक्त किया था कि “इस समस्या पर एक काल्पनिक और ठोस आक्रमण के जरिये पाँच सालों में हथियार बनाए जा सकने की बेहतर संभावनाएं दे सकता है।“ यह भी बताया गया कि सान 1949 के पतझड़ में, और इसके तुरंत बाद, आपने हाइड्रोजन बम बनाए जाने का विरोध किया; (1) नैतिक स्तर पर (2) यह कहते हुये कि यह संभव नहीं है (3) यह कहते हुये कि इसके पहले इसके विकास के लिए पर्याप्त संसाधन और पर्याप्त वैज्ञानिक नियुक्त थे (4) कि यह राजनैतिक रूप से इच्छित नहीं है।

यह भी जानकारी दी गई कि जब (राजनैतिक स्तर पर) यह निश्चित हो गया कि हाइड्रोजन बम का निर्माण होना है इसके बाद भी आपने इसका सतत विरोध जारी रखा, आपने उस प्रोजेक्ट का विरोध जारी रखा, और आपने इस प्रोजेक्ट में सहयोग करने से इनकार कर दिया। यह भी जानकारी दी गई कि आप कमीशन के सलाहकार की अपनी भूमिका प्रमुख अधिकारियों के बहुसंख्यक और लघुसंख्यको रूप में वितरण के कारण सार्वजनिक रूप से और व्यक्तिगत रूप से छोड़ दी आपने इन प्रमुख सलाहकार समिति के प्रमुख अधिकारियों को हाइड्रोजन बम निर्माण के उद्देश्य के खिलाफ करने की दिशा में काम किया। यह भी आगे बताया गया कि आपने अन्य बेहतरीन वैज्ञानिकों को भी हाइड्रोजन प्रोजेक्ट में काम न करने के लिए राजी करने में प्रमुख भूमिका निभाई और यह कि आपके सबसे अधिक अनुभवी, सशक्त और सबसे अधिक प्रभावी होते हुये भी किए गए विरोध के कारण हाइड्रोजन बम का विकास धीमा हुआ।

अत्यंत गुप्त जानकारी तक आपकी पहुँच को ध्यान में रखते हुये, और यह दृष्टिगत रखते हुये कि आप पर लगे आरोप अभी साबित नहीं हुये हैं, यह आपकी सच्चाई, चरित्र और निष्ठा पर सवाल उठते हैं, कमीशन के पास सर्व जन की सुरक्षा और रक्षा को सुरक्षित रखने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचता है, कि जब तक यह मामला सुलझ नहीं जाता तब तक के लिए आपका निर्गम निलंबित करे। इस लिए, तत्काल प्रभाव से परमाणु ऊर्जा कमीशन के कार्य और गुप्त सूचनाओं तक की पहुँच संबंधी आपकी अर्हता को भी निलंबित किया जाता है, जब तक कि इस मामले का अंतिम निर्णय नहीं हो जाता।

इस मामले को सुलझाने मे मदद करने के लिए, आपको परमाणु ऊर्जा वैयक्तिक सुरक्षा बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत होने का विशेषाधिकार प्राप्त है। परमाणु ऊर्जा कमीशन की सुनवाई प्रक्रियाओं में इस विशेषाधिकार को पाने के लिए, आपको यह पत्र मिलने के 30 दिनों के भीतर मुझे लिखित रूप में उपरोक्त लिखित जानकारियों के उत्तर भेजने होंगे और यह बोर्ड के समक्ष उपस्थित होने के लिए अर्ज़ी देनी होगी। यदि बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत होने की आपकी इच्छा है तो आपको यह जानकारी दी जाएगी कि इसके लिए बोर्ड में कितने लोग हैं, हालांकि बोर्ड में कितने भी सदस्य हो सकते हैं। इसके विरोध में चुनौती देने के लिए आपके पास बोर्ड के गठन संबंधी पत्र मिलने के बाद मात्र 72 घंटे होंगे।

यदि बोर्ड के सदस्यों के विपरीत कोई भी चुनौती नहीं दी जाती है तो सुनवाई के दिन और स्थान संबंधी सूचना आपको सुनवाई के 48 घंटे पहले दे दी जाएगी। आप अपने चयन के अनुसार वकील लेने की अनुमति है, और आप अपने पक्ष में सबूत या गवाह या दोनों पेश कर सकते हैं।


यदि आप अपने मामले की सुनवाई वैयक्तिक सुरक्षा बोर्ड के द्वारा करने के लिए राजी होते हैं तो इस बोर्ड की जाँच-परिणाम और पारमाण्विक ऊर्जा कमीशन में नियुक्त होने की आपकी अर्हताओं और परमाणु ऊर्जा कमीशन सुरक्षा निर्गम की अर्हताओं की रोशनी में और प्रशासनिक आदेश 10450 की जरूरतों के हिसाब से मुझे सिफ़ारिशें भेजी जाएंगी।

वैयक्तिक सुरक्षा बोर्ड के द्वारा आपके मामले में खराब से खराब निर्णय देने की स्थिति में, आपके पास आपके बोर्ड के समक्ष प्रस्तुति के समय बने रिकॉर्ड्स को पुनः विचारणीय करने का मौका रहेगा, जो कि कमीशन के वैयक्तिक सुरक्षा पुनर्विचार बोर्ड के द्वारा पुनर्विचार के संबंध में प्रार्थना के बाद होगा।
यदि 30 दिनों के भीतर लिखित उत्तर नहीं मिलता है तो यह समझा जाएगा कि आगे की किसी कार्यवाही के लिए आप किसी भी प्रकार का कोई स्पष्टीकरण नहीं देना चाहते। ऐसी परिस्थिति में, या आपके द्वारा बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत होने की लिखित इच्छा प्रदर्शित न करने के स्थिति में आपके मामले में मेरे द्वारा वर्तमान रिकॉर्ड्स के आधार पर एक निश्चित धारणा बना ली जाएगी।

आपकी जानकारी और निर्देशन के लिए, मानदंड और प्रक्रियाओं वाली परमाणु ऊर्जा कमीशन सुरक्षा निर्गमन की अर्हताएँ और प्रशासनिक आदेश 10450 की प्रतिलिपियाँ संलग्न कर रहा हूँ।
यह पत्र इस मामले की आपके और परमाणु ऊर्जा कमीशन के मध्य निजता को ध्यान में रखते हुये “गुप्त” चिन्हित किया जा रहा है। जहाँ आपको उचित महसूस हो वहाँ इस पत्र को इस्तेमाल करने में आपको कोई रोक नहीं है।

मैंने श्री विलियम मिशेल को आदेश दिया है, जिनका पता 1901 संविधान मार्ग एन.डब्ल्यू., वाशिंगटन, डी.सी. है, इस मामले की प्रक्रियाओं के पालन में आपको जो भी विस्तृत सूचना चाहिए हो, प्रदान करें।

आपका अपना,
के. डी. निकोलस, प्रमुख प्रबन्धक

संलग्नक (2)
1. मानदंड और प्रक्रियाएँ
2. प्रशासनिक आदेश 10450

No comments :

Post a Comment

We welcome your comments related to the article and the topic being discussed. We expect the comments to be courteous, and respectful of the author and other commenters. Setu reserves the right to moderate, remove or reject comments that contain foul language, insult, hatred, personal information or indicate bad intention. The views expressed in comments reflect those of the commenter, not the official views of the Setu editorial board. प्रकाशित रचना से सम्बंधित शालीन सम्वाद का स्वागत है।