अशोक शाह

बिहार के सीवान में जन्म। शिक्षा आई.आई.टी कानपुर एवं आई.आई.टी. दिल्ली से प्राप्त करने के उपरांत एक वर्ष तक भारतीय रेलवे इञ्जिनियरिंग सेवा में कार्य किया। 1990 में भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदार्पण कर मध्यप्रदेश के 10 से अधिक जिलों में विभिन्न पदों पर कार्य किया।

अब तक सात कविता संग्रहः माँ के छोटे घर के लिए (1996) पड़ाव प्रकाशन] भोपाल] उनके सपने सच हों (1999) यात्री प्रकाशन] नयी  दिल्ली] समय मेरा घर है (2003) मेधा बुक्स] नयी दिल्ली] समय की पीठ पर हस्ताक्षर है दुनिया (2006) राधाकृष्ण, नयी दिल्ली] समय के पार चलो (2009) राधाकृष्ण, नयी दिल्ली, पिता का आकाश (2015) और जंगल राग (2017) शिल्पायन, नयी दिल्ली, अनुभव का मुँह पीछे है वाणी प्रकाशन नयी दिल्ली, तथा ब्रह्माण्ड एक आवाज़ है ज्ञानपीठ से प्रकाशित।

पुरातत्व
तीन पुस्तकें] The Grandeur of Granite:The Temples of Vyas Bhadora(2012), Bookwell, New Delhi, Vintage Bhopal (2010), Madhyam, Bhopal, Ashapuri, The Cradle of Paramara and Pratihara Art, Temples Unveiled (2014), Bookwell, New Delhi प्रकाशित।

दर्शन एवं अध्यात्म
दर्शन एवं अध्यात्म पर आधारित पहली पुस्तक Total Eternal Reflection वर्ष 2016 में प्रकाशित।

सम्पादन
1. बैगानी शब्दकोश, 2. भिलाली शब्दकोश, 3. बारेली शब्दकोश,  4. पारम्परिक बैगानी गीत, 5. हिरौदी मुंदरी बैगानी मौखिक कथाएं, 6. ढंगना बैगा चित्रांकन परम्परा, 7. जनजातीय चित्रशिल्प, 8. प्रकृति पूजा का पर्व इंदल, 9. मध्य्रपदेश की जनजातियॉं, 10. अगरिया, पुस्तकों का वर्ष 2017 में संपादन

पत्रिका
अनियतकालीन लघु पत्रिका यावत् का सम्पादन

पुरातात्विक खोज
1. Discovery of the remains of Parmaras Temples of Nilgarha,
2. Discovery of the pre historic rock Shelters of Bhartipur,
3. Discovery of archaeological remains of more than 25 temples of Ashapuri,
4.Discovery of remains of 1000 years old satellite town  established by Raja          Bhoja at Keerat Nagar village; all in the Raisen district and

देश की तकरीबन सभी पत्र-पत्रिकाओं में कविताएँ, कहानियाँ प्रकाशित
सम्प्रति: भारतीय प्रशासनिक सेवा में
सम्पर्क: डी-एक्स, बी-2, चार इमली, भोपाल
ईमेल: ashokshah7@ymail.com,  चलभाष: 09425016311

No comments :

Post a Comment

We welcome your comments related to the article and the topic being discussed. We expect the comments to be courteous, and respectful of the author and other commenters. Setu reserves the right to moderate, remove or reject comments that contain foul language, insult, hatred, personal information or indicate bad intention. The views expressed in comments reflect those of the commenter, not the official views of the Setu editorial board. प्रकाशित रचना से सम्बंधित शालीन सम्वाद का स्वागत है।